घर पर आंवला कैंडी कैसे बनाये || आंवले का मुरब्बा कैसे बनाये

आंवला स्वास्थ्य के लिए बहुत ही अच्छा माना गया हैं | हजारो-लाखो दवाओं में इसका इस्तेमाल किया जाता हैं | पेट के लिए , बालो के लिए , ह्रदय के लिए , आँखों के लिए इत्यादि | ज्यादा तर आंवला बालो और आँखों के लिए खाया जाता हैं | बाबा राम देव जी भी आपको बहुत बार बताते हैं की यदि एक चम्मच आंवले के जूस को एक गिलास लौकी के जूस में मिलाकार पिया जाए तब यह आपके बालो को झड़ने से रोक देता हैं |

आंवला

इस प्रकार आंवले को खाने के बहुत सारे तरीके हैं लेकिन अलग -२ लोगो को अलग -२ स्वाद पसंद होने के कारण इसका इस्तेमाल अलग -२ तरीके से किया जाता है | कुछ लोग आंवले का मुरब्बा खाते हैं तो कुछ लोग आंवले की चटपट्टी कैंडी बना कर खाते हैं | ज्यादा तर आंवले का मुरब्बा खाया जाता हैं |

आंवले के मुरब्बे को बनाने के लिए हमें क्या-२ सामग्री की जरुरत होगी | वह देख लीजिये पहले

  1. एक किलो आंवला
  2. डेढ़ किलो चीनी
  3. एक छोटी प्याली काला नमक
  4. पाच-छ इलायची का पाउडर
  5. दस काली मिर्च पाउडर

Step-1 :  सबसे पहले आंवले को धो कर साफ कर लिया जाता हैं उसके बाद एक दिन तक इनको पानी में भिगो कर रख दे |

Step-2 : अब एक पिन ले और आंवले के अन्दर छेद कर दे | एक आंवले के अन्दर कम से कम 20 छेद करे | इस प्रकार आप सभी आंवले में छेड़ कर दे |

Step-3 : अब एक पेन में पानी ले उसको गर्म कर ले | जब पानी गर्म हो जाये कहने का मतलब हैं जब पानी में उबाल आ जाये तब उसमे आंवले डुबो दे | अब जब पानी में दोबारा उबाल आये तब तक आंवले को पानी में ही डूबा रहने दे | जब दूसरा उबाल आ जाये तब गैस को बंद कर दे और आंवले को एक कांच के बर्तन में निकाल ले |

Step-4 : अब एक कड़ाई में आधा किलो चीनी ले उसमे आंवले डाले और आधा कप पानी डाले | हलकी -2 आंच पर इसको पकाते रहे साथ ही साथ एक चम्मच लेकर इसको हिलाते रहे ध्यान रहे आपका गैस ज्यादा खुला न हो कहने का मतलब हैं आग कम ही होनी चाहिए |

Step-5 : जब आपकी चासनी गाढ़ी हो जाये तब आप गैस को बंद कर दे अब इसको 10 मिनट तक कड़ाई में ही छोड़ दे ताकि थोडा ठंडा हो जाये | अब आंवले के मुरब्बे को अलग कांच के बर्तन में निकाल ले |

Step-6 : इसका इस्तेमाल आप तीन से चार दिन बाद करे | ध्यान रहे गंदे हाथो से मुरब्बे को हाथ नहीं लगाये |

अब हम आपको बताते हैं की आंवले की कैंडी कैसे बनाते हैं |

आंवले की कैंडी बडी ही चटपट्टी होती हैं |यह मुरब्बे की तुलना में अधिक स्वादिष्ट लगती हैं | यहाँ पर मैंने मेरे स्वाद की बात लिखी हैं | मुझे आंवले की कैंडी बडी ही पसंद हैं | चलिए बनाते हैं आंवले की कैंडी , इसको बनाने से पहले हमें जानना हैं की इसको बनाने के लिए हमें कोन-२ सी सामग्री की जरुरत होती हैं |

  1. एक किलो आंवला
  2. 700 ग्राम चीनी

Step-1 :  सबसे पहले आंवले को धो कर साफ कर लिया जाता हैं उसके बाद एक दिन तक इनको पानी में भिगो कर रख दे |

Step-2 : अब एक पेन में पानी ले उसको गर्म कर ले | जब पानी गर्म हो जाये कहने का मतलब हैं जब पानी में उबाल आ जाये तब उसमे आंवले डुबो दे | अब जब पानी में दोबारा उबाल आये तब तक आंवले को पानी में ही डूबा रहने दे | जब दूसरा उबाल आ जाये तब गैस को बंद कर दे और आंवले को एक कांच के बर्तन में निकाल ले |

Step-3 :  जब आंवला पानी में उबल जाये |ध्यान रहे आपको आंवले को इतना ही उबालना हैं जिसमे आंवला थोडा ही नर्म हो | अब आंवले की गुठलिया बाहर निकाल दे एवं साथ ही साथ आंवले की हर फांक अलग-२ करे |

Step-4 :  अब आंवले में चीनी को मिला दे | ध्यान रहे आंवले और चीनी कांच के बर्तन में रहे | अब इसको ढक कर रख दे | दो दिन बाद जब चीनी की चासनी बन जाये तब इसके ढक्कन को खोले और आंवले की कैंडी को अलग निकाले |

Step-4 : अब आंवले की हर फांक को धुप में सुखा ले और इतना ही सुखाना हैं की आंवले की हर फांक सॉफ्ट हो  तथा आंवले की कैंडी हाथ पर चिपके ही ना |

Step-5 : अब इसमें थोड़ी सी चीनी का बुरा , काली मिर्च और नमक मिला ले |

Amit

Dr. Amit , DNM, DC, CNS, is a certified doctor of natural medicine, doctor of chiropractic and clinical nutritionist with a passion to help people get healthy by using food as medicine.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *