थायराइड की समस्या में वजन कम करे | Weight Loss in Thyroid

थायराइड की समस्या में वजन बढ़ने लगता हैं | क्योकि थायराइड का सीधा संबंध
मेटाबोलिज्म से होता हैं | यह दो प्रकार का होता हैं |

  1. हायपरथायराइडिज्म
  2. हायपोथायराइडिज्म

यह दोनों ही एक दुसरे के विपरीत होते हैं |  हायपरथायराइडिज्म में वजन कम होता हैं जबकि हायपोथायराइडिज्म में वजन बढ़ता हैं | हायपोथायराइडिज्म में मेटाबोलिज्म के पचाने की क्षमता कम हो जाती हैं | वह भोजन को जल्दी से पचा नहीं सकता हैं | इसलिय व्यक्ति मोटापे के शिकार हो जाते हैं | यदि यह रोग किसी फिटनेस वाले या वाली को हो जाता हैं तब वह मोटापे के शिकार नहीं होते हैं | इस रोग में आपकी सावधानी ही आपके रोग को ठीक कर सकती हैं | जो लोग इस समस्या से नहीं इसकी वजह से मोटापे के शिकार हो रहे हैं वह लोग अपनी सेहत का ख्याल नहीं रखते हैं तभी वो लोग मोटे होते हैं |जिन लोगो को इस बीमारी का पता नहीं होता और यदि वो लोग जंक फ़ूड का इस्तेमाल खाने में करते हैं तब यह समस्या अधिक बढ़ जाती हैं | क्योकि जंक फ़ूड में सोडियम प्रचुर मात्रा में होता हैं  |

थायराइड की समस्या में वजन कम करे | Weight Loss in Thyroid

हायपोथायराइडिज्म में आपका वजन इतना भी नहीं बढ़ता यह सिर्फ आपके वजन में 5-10 किलो जोड़ता हैं | बाकि का वजन आपके अनियमित और ख़राब भोजन की वजह से बढ़ता हैं | इसके उपाय की तरफ जाने से पहले हम आपको इसके लक्षण की तरफ ले जाते हैं | चलिए जानते हैं इसकी वजह से हमारे शरीर में कोन -२ से रोग उत्पन हो जाते हैं |

  1. वजन बढ़ने के साथ-२ त्वचा का रुखापन |
  2. अधिक सर्दी लगना उसकी वजह से जोड़ो में दर्द होना |
  3. चहरे का फूलना |
  4. ह्रदय दर कम होना |
  5. कब्ज का शिकार होना |

उपाय की तरफ जाने से पहले अपने डॉक्टर से पूरी सलाह ले की आपको हायपोथायराइडिज्म हैं या नहीं | सबसे पहले हायपोथायराइडिज्म की जाँच करवा ले | अब आप यह उपाय अपना सकते हो |

आहार को बदले 

यदि आप मोटे होते जा रहे हैं और आपने हायपोथायराइडिज्म की जाँच करवा ली हैं तब आपको अपने आहार को बदलना होगा | क्योकि आपको नमक छोड़ना होगा
| सफ़ेद नमक की जगह आप सेंधा नमक उपयोग में ले सकते हैं | वो भी थोडा ही | नमक पानी की वजह से हायपोथायराइडिज्म बढता हैं | यदि आपका वजन आहार
बदलने पर भी बढ़ रहा हैं तब भी आपको आहार प्लान बदलना होगा | और जब तक बदलना होगा जब तक आपको कोई आहार प्लान सूट नहीं कर जाता | क्योकि वजन एकदम से निचे नहीं आएगा | बस आपको अपने आहार में इन चीजो का इस्तेमाल नहीं करना हैं |
500mg से ज्यादा सोडियम नहीं खाना हैं |
ब्रेड , चावल , अधिक वसा वाला खाना |
जंक फ़ूड का इस्तेमाल न करे |

खाने का नियम बनाये

हायपोथायराइडिज्म की समस्या होने पर भूखे कभी नहीं रहे | अपने भोजन का एक नियम बनाये, सही समय पर भोजन करे | जैसा की मैंने पहले बताया भोजन को बदले जैसे की रोटी सिर्फ गेहू के आटे की ही इस्तेमाल में ले | कम खाए लेकिन खाए और वो भी संतुलित |

पोटैशियम युक्त आहार खाए

सोडियम युक्त आहार को कम करने के लिए पोटैशियम युक्त आहार को खाना चाहिए जैसे केला, खुबानी, संतरा, शकरकंद, और चुकंदर का सेवन करना है।

प्रोटीन युक्त आहार हैं जरुरी

ऐसे भोजन का सेवन करे जो प्रोटीन से भरपूर हो साथ ही साथ जिसमे सोडियम की मात्रा बहुत कम हो | हो सके तो लीन प्रोटीन वाले खाद्य पदार्थो जैसे सोया उत्पादों का सेवन करे |

पानी खूब पिए

पानी पीने से आपके थायरॉयड की समस्या कम होने लगती हैं |

व्यायाम का नियमित रखे

नियमित व्यायाम ही थायराइड से लड़ने में मदद कर सकता हैं | जो आपके चिकत्सक आपको दवाई दे रहे हैं उनको लगातार लेते रहिये साथ ही साथ व्यायाम भी करे सप्ताह में 5 बार तो आपको व्यायाम करना बहुत जरुरी हैं | व्यायाम से आपका मेटाबोलिज्म ख़राब नहीं होगा और थायराइड से आपका वजन नहीं बढेगा |
इसके लिए आप दिन में 1 बार कम से कम कपालभाती प्राणायाम करे | गर्दन को आगे पीछे घुमाये | उज्जयिनी प्राणायाम 10 से 15 बार दोहराएं। इसके लिए आप कुछ आसन भी अपना सकते हैं जैसे विपरीत करणी आसन, मत्स्यासन व हलासन, उष्ट्रासन व धनुरासन

धनिये की चटनी

धनिये की चटनी का इस्तेमाल आप थायराइड की समस्या से निजात पाने के लिए कर सकते हैं | ताजा धनिये को पिसकर उसकी चटनी बना ले उसके बाद एक चमच चटनी को एक गिलास में डालकर खाली पेट इसका सेवन करे | आपको थायराइड की समस्या में रहत मिलेगी |

आहार जो आप थायराइड की समस्या में इस्तेमाल कर सकते हैं 

लोकी का गुनगुना जूस सुबह खाली पेट पि सकते हैं |
ज्वारो के जूस का सेवन भी लाभदायक हैं |
ताजा एलोवेरा के जूस का इस्तेमाल कर सकते हैं | जो की आपके लिए फाइबर का इस्तेमाल कर सकते हैं |