Wednesday, 7 December 2016

कैसे चमकाए बेकिंग सोडा से दन्त | Get Whitening Teeth with Baking Soda

कैसे बेकिंग सोडा से दन्त चमकाए

हम सभी ऐसे उत्पादक का प्रयोग करते है जो काफी महंगे होते है फिर भी ये उत्पादक
 हमारे दन्त को नही साफ कर पाते है| क्यू न हम बेकिंग सोडा(मीठा सोडा) का प्रयोग दन्त साफ करने में उपयोग करे |बेकिंग सोडा जिसे सोडियम बाईकार्बोनेट के रूप में भी जाना जाता है यह एक क्लीनर होता है | जो हमारी दिन चर्या में काफी महत्व रखता हैं | जैसे हम चाय ,कोफ़ी, पिने से हमारे दन्त पीले पड़ जाते है| इस पीलेपन को हटाने के लिए हम बेकिंग सोडा का प्रयोग कर सकते है|

कैसे चमकाए बेकिंग सोडा से दन्त | Get Whitening Teeth with Baking Soda


पानी में बेकिंग सोडे को कैसे मिलाये

एक पेस्ट या घोल को बनाने के लिए हम छोटे कप में आधा  चम्मच बेकिंग सोडा जिसे हम सोडियम बाईकार्बोनेट भी कहते है| और  4 व 5 बूंद पानी की भी मिलाये व ये भी ध्यान दे की पेस्ट पतला न  हो जाए इसको इस प्रकार मिलाये की ये हमारे टूथब्रश पर आसानी से चिपक जाये |

आप केवल एक या दो मिनट ही अपने दातो पर ब्रश करें

आप सामान्य प्रकार से अपने दातो पर ब्रश करें व दरारें और छिद्रों में ब्रश करने पर ध्यान दे | बकिंग सोडा एक हल्का अपघर्षक है जो आपके दातो को नुकसान पहुचा सकता है इसलिए आप एक या दो मिनट से अधिक ब्रश न करे|
ब्रश करते समय आप उपर से निचे की दिशा में ही करे न की इधर उधर करे|

कुल्ला कैसे करे

कुल्ला कर ते समय आप बेकिंग सोडा बाहर थूक दें न की उसे अंदर ले फिर आप साफ पानी से कुल्ला करे जिसे बेकिंग सोडा आपके मुह में न रहे | फिर आप अपने टूथब्रश को भी धोएं ।


सप्ताह में कम से कम दो बार दोहराए

आप  सप्ताह में कम से कम दो दिन बेकिंग सोडे का प्रयोग अपने दन्त साफ करने में प्रयोग करे| आपको बस कुछ ही दिनों के बाद अपने दांत साफ दिखने लग जायेगे|
व इसे लगातार प्रयोग न करे क्यूकी बेकिंग सोडा  अपघर्षक होता है जो आपके दन्त को नुक्सान पहुंचा सकता है| आप अपनी नियमित रूप से अपने ब्रश करने की आदत को  बेकिंग सोडा के साथ न बदलें । यदि आपके दन्त हलके पीले हैं और यदि आप रोज ब्रश करते हैं तो नियमित रूप से  ब्रश करे और बेकिंग सोडे का प्रयोग महीने में 2 बार करे| नियमित ब्रश करने से क्षिद्र, दांत के मैल के निर्माण, मसूढ़े की बीमारी से लड़ने में और अपनी सांस ताजा रखने में मदद करती है|

बेकिंग सोडा के साथ हाइड्रोजन परॉक्साइड मिलाये |

हाइड्रोजन परॉक्साइड उत्पादक एक ऐसा घरेलु उत्पादक होता है जिसका प्रयोग हम दन्त साफ, मतलब सफ़ेद करने में उपयोग कर सकते है| सबसे पहलें हम हाइड्रोजन परॉक्साइड के आधे चम्मच को बेकिंग सोडा के आधे चम्मच के साथ मिलाकर एक पेस्ट या घोल बनाते है जो टूथपेस्ट की तरह गाढ़ा हो| इस पेस्ट को हम ब्रश पर लगा कर दन्त को साफ करते है तथा इस पेस्ट एक दो मिनट हम अपने दांतों पर लगा रहने दे | फिर पानी से हम कुल्ला करे|

बेकिंग सोडा के साथ नीबू का रस मिलाये

निम्बू में साइट्रिक एसिड होता है जो की एक अति प्रभावित बेकिंग एजेट होता है| बेकिंग सोडे को आप ताजा नीबू के रस के साथ ही मिलाये |
सब से पहलें आप बेकिंग सोडे का आधा चम्मच पाउडर को एक ताजा नीबू के रस के साथ मिश्रित करे | फिर आप टूथब्रश का उपयोग करके इसको दांत पर इस मिश्रण के साथ ब्रश करें|  और इस मिश्रण को अपने दन्तो पर एक से दो मिनट तक लगा रहने दे| फिर आप साफ पानी से कुल्ला कर के मुँह धोले|


बेकिंग सोडा के साथ टूथपेस्ट मिलाये |

बेकिंग सोडा के साथ हम टूथपेस्ट का प्रयोग कर सकते है| टूथपेस्ट में फ्लोराइड के गुण होते है| बेकिंग सोडा के साथ हम टूथपेस्ट को मिलाते है | जैसे हम रोज की तरह टूथपेस्ट करते है हम रोज जितनी टूथपेस्ट अपने ब्रश पर लगाते है उतनी ही लगाये फिर हम उस पर थोडा बेकिंग सोडा  छिड़कें व छिड़केंने के बाद सामान्य रूप से ब्रश करे|

सलाह

ध्यान करे की आप अपने मसूड़ों पर ब्रश न करे क्यू की आपके मसूड़ों में जलन हो सकती है व खून निकल सकता है| यदि आपको ब्रश करते समय आपके दन्तो में दर्द या जलन महसूस होती है तो आप इसका प्रयोग न करे|
आप ब्रश करने के बाद अपने मन पसंदीदा मसाले या फल का उपयोग करे बुरी सास दन्त से संबंधित होती है| क्यूकी इन में भोजन के कण और पटिका होती है| बुरी सास का मुख्य कारण मसूड़ों में  बैक्टीरिया उत्पन होना है|
 बेकिंग सोडे का प्रयोग आप हर दो सप्ताह के बाद करे| इस के अलावा आप दन्त  चिकित्सक से सलाह आवश्यक ले| आप इलेक्ट्रिक ब्रश से तेजी व प्रभावी रूप  से आप अपने दन्त साफ कर सकते है|

बेकिंग सोडे से चेतावनी

बेकिंग सोडा हमारे लिए हानिकारक भी साबित हो सकता है क्यू की बेकिंग सोडा दंत संशोधन संबंधी गोंद (orthodontic glue) को नष्ट कर सकता है । यदि आपने ब्रेसिज़ पहन रखें हैं तो बेकिंग सोडे का प्रयोग न करे| अपने द्न्तओ को (नार्मल) सावधानी पूण तरीके से ब्रश करे न की से कठोरता पूर्ण तरीके से करे क्यूकी कठोरता से आपके दन्त की इनमेल नष्ट हो सकती है  जिसे अपघर्षण कहा जाता है), और कुछ भी खाने के प्रति आपके दांतों की संवेदनशीलता बढ़ सकती है।

0 comments:

Post a Comment